How to Attempt SSC CGL Tier I Paper by Mr. Saurav Kumar(ITI in CGL 2013)

Hello Friends,
We are sharing with you how to Attempt CGL Tier I Paper  by Mr. Saurav Kumar(ITI in CGL 2013)
सभी aspirant के attempting process में अंतर उनके strong और week sector (Math, Reas, Eng, Gs)के कारण diffrence हो सकता है।

लेकिन exam में आप कितना भी prepare होकर क्यों न जाये attempting process काफी मायने रखता है।
गलत process से पूरा exam ख़राब हो सकता है।
1 ) REASONING- सबसे पहले reasoning solve करे। (time-25 से 30 min)
###Reason
a) Reasoning के लिए fresh mind की जरुरत होती है। इसलिए reasoning पहले बनाना सही रहता है।
b) Reasoning प्रायः सभी की अच्छी होती है। इससे पहले sector के अच्छे जाने पर शेष के लिए positive feel होगा।
(कहते है न बस शुरुआत अच्छी हो जाये)
c) कम समय की खपत होती है।
d) अगर आप maths से start करते है और यदि maths आपकी अच्छी नही बनी। तो आप tense हो जायेंगे और इसका negative reflection आपके reasoning पर पड़ेगा और वो भी ख़राब जा सकता है।
यदि math अच्छी भी गयी तो भी calculation के कारण mind कुछ थका हुआ होगा और reasoning पर opposite effect होगा।
note:
कोई question में नहीं अटकना है। जो question लगे की कुछ lengthy है उसे mark कर के छोड़ देना है last के लिए।
लगभग 4-5 question ऐसे होते है जो आपके उसे छोड़ने की quick decision की ability को test करते है। इन questions को अपने ego से दूर रखना है और छोड़ देना है। समय बचने पर इन questions को बाद में बनाया जा सकता है।
2) GS- reasoning के बाद GS बनाना चाहिए।
time-12 से 15 min.
###Reason
a) GS काफी कम time taken होता है बस देखते निकल जाना है जो याद हो मारिये नहीं तो आगे बढ़ जाइए । इसमे थोड़ा सा भी time waste नहीं करना है।
b) लगभग 40 से 45 min में 100 questions solve हो जाने से  mind psychologically positive feel करने लगता है और time से related कोई tension भी नहीं रहता ।
c) अब आगे आप 101, 102 etc number ques solve कर रहे होंगे तो आपको psychological 200 के नजदीक जाने का experience होगा।
3) MATHEMATICS -तीसरा maths बनाना चाहिए।
भूल कर भी maths के किसी भी question में फंसने की गलती न करे ये आपकी सबसे बड़ी भूल हो सकती है। जो question नहीं बने या calculation long हो उसे तुरंत छोड़ दे। इसके लिए आप पहले से mind make up कर ले की आपको 5 question छोड़नी है। यदि आप एक question छोड़े तो exam में इस negative बात को सोचने के बजाय आप ये positive सोचे की अभी 4 question और छोड़ना बाकि है।  candidates अपनी maths के level के अनुसार इसके 10 question भी रख सकते है। अगर आप इस way से चलेंगे तो आपको English में काफी time मिल जायेगी।और English बनाकर again लौट कर आप math के इन rest questions को बना सकते है।
कुछ लोगो का कहना है की maths में पहले pie- chart या bar diagram वाली question पहले बना लेना चाहिए। लेकिन ये जरुरी नही है क्योकि यदि bar diagram या pie chart की question tough पूछ दिया गया। तो आपको पुरे 5 question एक साथ नहीं बनने का shock लग सकता है। जिसका effect rest 45 questions पर पड़ सकता है।
time-50 से55 min
4)English-English को last में बनाये। सबसे पहले vocabulary based questions बनानी चाहिए( one word,phrases,synonym,antonym,spelling mistake,) इसके बाद grammatical problems (common errors,improvement,filler)
and last में comprehension questions.
ये section आप जितना speed बना सकते हो बना सकते हो। 
time 20 से 25 min
###Reason
a) maths को last में इसलिए नही बनाना चाहिए क्योकि time की कमी हो जाने पर pressure बढ़ जाता है।जिससे calculation wrong होने लगती है और tension बढ़ता चला जाता है।अंत में जो ques आप जान रहे होते है वह भी नही बन पता।
b) English vocabulary based रहती है जो आप कम समय में भी आसानी से बना सकते है। कम समय में आप तेजी से English को solve कर सकते है लेकिन maths को नही।
note: जिनकी English mathematics से काफी अच्छी हो और जो maths में 30 35 questions attempt की ही सोचते है वे math से पहले English को बना सकते है।
लेकिन starting के दो subject(reasoning,Gs) सभी के लिए perfect है।
At last आप सबको ये कहूँगा क़ि ये मेरा तरीका था attempting का और मैं इसपर 101% sure हूँ। काफी aspirant इससे different way अपनाते होंगे और अपने तरीको में adapt और comfortable होंगे।
जिन्हें already अपने process से अच्छे marks आ रहे हो वे इसे न अपनाये और please अपना attempting process share करे।
All the best  friends.         
By-SOURAV KR.
from Forbesganj(Araria),Bihar (selected for income tax  inspector  in cgl 2013)

Leave a Reply